टीकमगढ़

जतारा :- किसानों की फसलों का सर्वे करने गांव में नहीं पहुंच रहे हल्का पटवारी किसान परेशान

बालकिशन प्रजापति एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज

किसानों की फसलों का सर्वे करने गांव में नहीं पहुंच रहे हल्का पटवारी किसान परेशान,

बम्होरीकलां :- बारिश के चलते किसानों की खराब हुई फसलों का सर्वे कराए जाने को लेकर भले ही जिला कलेक्टर निर्देशन में जतारा एसडीएम के द्वारा बीते 4 दिन पहले एक आदेश जारी कर दिया था कि प्रत्येक ग्राम में हल्का पटवारी ग्राम पंचायत सचिव और कृषि विस्तार अधिकारी के साथ टीम गठित कर किसानों के खेतों पर पहुंचकर किसानों के उड़द मूंग तिली कि जो भी फसलें बारिश के पानी से खराब हुई है उसका सर्वे किया जाए इस आदेश के बाद किसानों को उम्मीद जागी थी कि हल्का पटवारी ग्राम में किसानों के खेतों पर पहुंचेंगे और उनकी नष्ट हुई फसलों को देखकर हल्का पटवारी के प्रतिवेदन के आधार पर शायद किसानों को आर्थिक सहायता मिल जाएगी लेकिन ग्रामीण अंचलों में हालात यह है कि जतारा विधानसभा क्षेत्र के ग्रामीण अंचलों में पदस्थ हल्का पटवारी किसानों की फसलों का सर्वे कार्य गांव में नहीं पहुंच रहे और मुख्यालय से नदारद है किसान ऐसे पटवारियों को खोज रहे हैं, जबकि ग्राम पंचायतों में मुख्यमंत्री जन सेवा अभियान चल रहा है इस दौरान ग्राम पंचायत सचिव और कृषि विस्तार अधिकारी अपने गांव में मौजूद है। लेकिन हल्का पटवारियों के ग्राम में न पहुंचने के कारण किसानों की खराब हुई फसलों का सर्वे नहीं हो पा रहा है किसानों ने बताया कि लगता है। कि राजस्व विभाग में हल्का पटवारी अपने ही वरिष्ठ अधिकारियों के आदेशों को नहीं मानते और उनके आदेशों को दरकिनार कर मुख्यालय से नदारद है,
जनपद पंचायत पलेरा की ग्राम पंचायत बमोरी कला में पदस्थ हल्का पटवारी शिवम मिश्रा महीनों से लापता है ग्रामीणों के द्वारा इस मामले की जानकारी तहसीलदार पलेरा दी गई लेकिन इस मामले में कोई ध्यान नहीं दिया गया है,जबकि जतारा एसडीएम ने स्पष्ट रूप से निर्देश जारी किए थे कि सर्वे कार्य में किसी भी प्रकार की लापरवाही नहीं चलेगी लेकिन अभी तक किसी भी ग्राम में सर्वे का काम शुरू हुआ है लेकिन बमोरी कला में तो हल्का पटवारी अपने पदस्थापना मुख्यालय से गायब है यहां पर आते हैं और ना ही वह किसानों के बीच पहुंच रहे हैं किसान तो हल्का पटवारी को पहचानते तक नहीं है तो किसानों की फसलों का सर्वे कैसे होगा जिसको लेकर भी अब सवाल उठ रहे हैं लेकिन इतना जरूर है कि राजस्व विभाग के कर्मचारी अपने वरिष्ठ अधिकारियों के आदेशों को दरकिनार कर रहे हैं।किसान रामकिशन माता घनश्याम दास, कल्याण सिंह, हरिराम,सरमन लाल, मनोज, सीताराम, आदि ने बताया कि ग्राम पंचायत बमोरी कला में पदस्थ हल्का पटवारी गांव में कम ही आते हैं।जिसको हटवाने की मांग को लेकर जिला प्रशासन के नाम एक पत्र भेजा गया है। जिसमें यह उल्लेख किया गया है।

Related Articles

error: Content is protected !!
Close