अवर्गीकृत

जतारा :- सड़क के अभाव पढाई नहीं कर पा रहे बच्चे, शिक्षा से वंचित,

बालकिशन प्रजापति एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज

सड़क के अभाव पढाई नहीं कर पा रहे बच्चे, शिक्षा से वंचित,मुख्य मार्ग से गांव तक नहीं पक्की सड़क,जंगल के रास्ते कच्ची गलियों निकलते ग्रामीण

बम्हौरीकलां :- देश को आजाद हुए 75 साल हो गए हैं, और ग्रामीण क्षेत्रों के हालात आज भी खराब है, और एक गांव के ग्रामीणों को मुख्य मार्ग से अपने गांव तक आने जाने के लिए पक्की सड़क नहीं जिससे ग्रामीणों को मुख्य मार्ग से जंगल के रास्ते अपने गांव तक पहुंच पा रहे, जबकि सरकार के द्वारा आजादी का अमृत महोत्सव मनाया जा रहा है, और 75 साल में हुई विकास कार्य और जनकल्याणकारी योजनाओं का बखान जनता के बीच किया जा रहा है,।लेकिन जतारा विधानसभा क्षेत्र के ग्राम पंचायत खरगापुरा के आलपुर, गांव तक आने जाने के लिए आज तक कोई भी पक्की सड़क नहीं है, और यहां के ग्रामीण जतारा मऊरानीपुर मुख्य मार्ग से तीन किलोमीटर दूर स्थित आलपुर गांव है, जो एक वन ग्राम है, और यहां पहाड़ और जंगल है, जंगल के बीच पथरेड़ी रास्ता जिसके बीच ग्रामीण हर मौसम में अपने गांव तक आने जाने के लिए मजबूर हूं जंगल और जंगलों के बीच पहाड़ और तालाब ऐसी स्थिति में अगर कोई व्यक्ति बीमार होता है ,यह बच्चों को गांव से बाहर शिक्षा ज्ञान करने के लिए जाना है तो वह बारिश के मौसम में अपने घर से बाहर नहीं जा पाते और अपने गांव में घर पर ही रह कर गुजर बसेरा कर दे ग्राम में भले ही कक्षा पांचवी तक बच्चों को शिक्षा देने के लिए प्राथमिक पाठशाला लेकिन 5 वी के बाद आगे की पढ़ के लिए ग्रामीण बच्चों को गांव के बाहर जाना है लेकिन बारिश के मौसम में रास्ता नहीं है पथरीली जमीन है जंगल के नीलगाय और जीव-जंतुओं का डर भी बना रहता है ऐसे में कोई व्यक्ति अपने बच्चों को गांव के बाहर के स्कूल में भेजने से डरते हैं, और यहां के ग्रामीण भगवान भरोसे है, और इस ग्राम आलपुर, में 800 के लगभग आबादी है और 400 मतदाता है, जिसमें यादव समाज के लोग निवास करते हैं, जिनका मुख्य व्यवसाय पशुपालन और दूध बेचना, कृषि कार्य भी करते लेकिन जंगली जानवरों के द्वारा फसलों को चौपट कर देते हैं, ऐसे में किसानों को रात्रि जागरण करना पड़ता है,ग्राम आलपुर के शंभू यादव रमेश यादव पप्पू यादव अर्जुन यादव आदि ने बताया कि मुख्य मार्ग से ग्राम तक पहुंचने के लिए पक्की सड़क नहीं है जंगल होने के कारण विकास कार्यों में वन विभाग राह में रोड़ा बना हुआ है आज से 10 साल पहले गांव तक पहुंचने के लिए मुख्य मार्ग से जतारा विधायक हरिशंकर खटीक ने कच्ची लिंक सड़क डलवाई थी अब वह सड़क भी उखड़ चुकी है लेकिन उस पर अमल नहीं हो पाया क्योंकि बंद बाद यहां के विकास कार्यों व सड़क की कार्य में रोड़ा बना हुआ है, जिससे यहां पर काम नहीं हो पाता और बच्चे सड़क के अभाव में स्कूल तक नहीं पहुंच पाते जिससे बच्चे भी शिक्षा से दूर हो रहे हैं जो संपन्न परिवार में उनके बच्चे उन्होंने अपना गांव छोड़कर शहर में निवास करने लगे ताकि बच्चों का भविष्य बन सके लेकिन जो गरीब परिवार के लोग हैं आज भी अपने गांव में ही रहने को मजबूर हैं,।

क्या कहते जनप्रतिनिधि इस संबंध में – जतारा विधायक हरिशंकर खटीक ने कहा है कि आलपुर गांव तक आने जाने के लिए प्रधानमंत्री या मुख्यमंत्री ग्रामीण सड़क योजना के तहत निर्माण कार्य करा जाएगा, जहां तक वन विभाग की बात है, शासन स्तर पर प्रयास जारी है, जल्दी समस्या का समाधान होगा,

क्या कहते जनपद सीईओइस संबंध में – जनपद पंचायत पलेरा के सीईओ एम आर मीणा ने बताया कि यह गंभीर समस्या है, वहां निर्माण कार्य कराने के प्रयास किए मगर वन विभाग की समस्या,वन विभाग के अधिकारियों से बात कर जल्दी इस समस्या को हल किया जाएगा,

क्या कहते एस डी एम इस संबंध में – जतारा एस डी एम संजय कुमार जैन ने बताया कि आलपुर गांव की समस्या के लिए लोग वन विभाग अधिकारी से बात करें,

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close