टीकमगढ़

जतारा :- मदन सागर तालाब का जल गंदगी और कचरे के ढेर से हो रहा प्रदूषित

बालकिशन प्रजापति एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज

जिम्मेदार नहीं दे रहे ध्यान

जतारा :- नगर का लाइफ लाइन माने जाने वाला मदन सागर तालाब का जल गंदगी और कचरे के ढेर से प्रदूषित हो रहा है जिम्मेदारों की उपेक्षा के चलते तालाब अपनी दुर्दशा पर आंसू बहा रहा है प्रशासन जनप्रतिनिधियों आम जनों का इस ओर कोई ध्यान नहीं है।नगर का जल स्तर बना रहे पेयजल व्यवस्था दुरुस्त रहे इस कल्पना के साथ चंदेल कालीन समय में राजा मदन देव चंदेल ने मदन सागर तालाब का निर्माण कराया था सैकड़ों वर्ष बीत जाने के बाद आज तालाब अपने अस्तित्व की लड़ाई लड़ रहा है अगर इसी तरह तालाब में कचरा नालियों का पानी गंदगी को नहीं रोका गया तो जल प्रदूषित होने के साथ-साथ हम चंदेल कालीन तालाब का अस्तित्व भी खो देंगे
स्वच्छता के नाम पर लाखों रुपए खर्च करने के बाद भी सफाई व्यवस्था जस की तस है तालाब किनारे फैली गंदगी कचरे का ढेर इस ओर इशारा कर रहे हैं की अभियान कितने भी चल जाएं पर हम नहीं बदलेंगे यह अभियान केवल कागजों तक ही सीमित है तालाब किनारे कचरे के ढेर पॉलिथीन को कभी नहीं उठाया जाता है जिससे बारिश के पानी के बहाव में सारा कचरा प्लास्टिक पॉलिथीन तालाब में चले जाते हैं जिससे तालाब का जल प्रदूषित हो रहा।शौचालय में नहीं पानी की व्यवस्था
तालाब किनारे बनाए गए शौचालय में पानी की कोई व्यवस्था नहीं है टंकी हवा में उड़ी हुई है जिसे दुरुस्त नहीं किया गया जिसके चलते शौच करने वाले लोग शौचालय में ना जाकर खुले मैदान में जाते हैं और गंदगी फैलाते हैं वही तालाब के नारे बसी लोगों का कहना है कि यहां कचरा गाड़ी एक अभी कचरा नहीं उठाया जाता है जिससे है पूरा कचरा जमा होता रहता है
इनका कहना है – तालाब पर कचरा फैला है तो उसे जल्द उठाया जाएगा और नियमित सफाई होगी
शिवी उपाध्याय सीएमओ जतारा।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close