टीकमगढ़

जतारा :- प्रत्येक अभिभावक का पहला दायित्व है कि वह अपने बच्चों को प्रतिदिन भेजे स्कूल, नीतू,

बालकिशन प्रजापति एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज

प्रत्येक अभिभावक का पहला दायित्व है कि वह अपने बच्चों को प्रतिदिन भेजे स्कूल, नीतू,

जतारा :- सरकारी स्कूलों में नवीन शिक्षा सत्र के तहत प्रवेश उत्सव कार्यक्रम बड़े ही धूमधाम के साथ मनाया गया पहले बच्चों का विद्यालयों में शिक्षकों के द्वारा तिलक एवं माल्यार्पण किया गया उसके बाद बच्चों और के द्वारा शिक्षकों के साथ हम स्कूल चलें अभियान को सफल बनाने के लिए रैली निकाली गई जिसमें जागरूक करने का संदेश दिया गया जतारा विधानसभा क्षेत्र के प्रत्येक सरकारी स्कूलों में प्रवेश उत्सव का कार्यक्रम मनाया गया जिसमें ग्रामीण अंचलों में इस बार खासा उत्साह का माहौल देखने को मिला है, जहां पर शिक्षकों ने विद्यालयों में सजावट की ओर सर्व शिक्षा अभियान के उस नारे को बुलंद करने का सपना साकार करने का काम किया जा रहा है, जिसमें सरकार की मंशा है कि सब बच्चे पढ़ेंगे तो देश बढ़ेगा और अभिभावकों से भी शिक्षकों ने अपील की और कहा कि बच्चे शिक्षित होंगे तो मां-बाप का नाम रोशन तो करेंगे ही साथ बच्चे देश का भविष्य और आने वाले समय देश की सेवा करेंगे।
इस सम्बंध में शासकीय माध्यमिक शाला नगरी की प्रधानाध्यापक श्रीमती नीतू प्रजापति ने बताया कि प्रत्येक अभिभावक का दायित्व बनता है कि वह स्वयं जागरूक को और अपने बच्चों को शिक्षित कराने में कोई कमी नहीं रहने देंगे और अपने बच्चों को प्रवेश के बाद प्रतिदिन समय पर स्कूल भेजें जिससे बच्चों को अच्छी शिक्षा देने का काम विद्यालय के शिक्षकों के द्वारा किया जा सके और उन्होंने बताया कि आज प्रवेशोत्सव कार्यक्रम के द्वारा कलेक्टर सुभाष कुमार द्विवेदी एवं जिला शिक्षा अधिकारी के साथ ही संकुल के प्राचार्य एवं विकास खंड शिक्षा अधिकारी के निर्देशन में विद्यालय में प्रवेश उत्सव का कार्यक्रम धूमधाम के साथ मनाया गया और बच्चों का तिलक माल्यार्पण किया गया यह कार्यक्रम संकुल के सीएसी, अमित चतुर्वेदी एवं अन्य अधिकारियों की मौजूदगी में विद्यालय में आयोजित किया गया विद्यालय में तिलक पर माल्यार्पण के बाद स्कूल चले अभियान को सफल बनाने को लेकर गांव में रैली निकाली गई और सभी लोगों से अपील की गई कि वह एकता का संदेश दें और बच्चों को नियमित स्कूल भेजें।और प्रवेश उत्सव कार्यक्रम के बाद बच्चों को स्वयं सहायता समूह के द्वारा भोजन वितरण किया गया।इसी क्रम मेंबम्हौरीकलां सुबह से ही सरकारी स्कूलों शिक्षकों शिक्षक समय के पहले ही विद्यालय में पहुंच गए थे और छात्रों के आने का इंतजार करने लगे तो आज पहला दिन होने के कारण संकुल बम्होरी कला के अंतर्गत कई विद्यालयों के शिक्षकों ने घर-घर जाकर बच्चों को स्कूल बुलाया और उनके माता-पिता से सहयोग कर बच्चों को नियमित स्कूल भेजने की अपील की और जैसे ही समय हुआ बच्चे विद्यालयों में पहुंचे तो उनका तलाक माल्यार्पण किया गया उसके बाद हम स्कूल चले अभियान के तहत ग्राम बम्होरी कला में भी रैली निकाली गई इस संबंध में संकुल प्राचार्य आत्मराम वर्मा ने बताया कि विद्यालयों को पहले ही निर्देशित किया गया था कि वह बच्चों को स्कूल में बुला और प्रवेश उत्सव का कार्यक्रम शासन के नियम अनुसार बता के साथ आयोजित करें।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close