टीकमगढ़

जतारा :- गांव से गायब हो रहे हैंडपंप, सात साल पहले थें अस्सी हैंडपंप, रखरखाव के अभाव में गायब ,

बालकिशन प्रजापति एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज

गांव से गायब हो रहे हैंडपंप,सात साल पहले थें अस्सी हैंडपंप, रखरखाव के अभाव में गायब पीने के पानी को तरस रहे ग्रामीण,

जतारा :-  बम्हौरीकलां गांव में ग्रामीणों की प्यास बुझाने के लिए लगे सरकारी हैंडपंप कुछ तो सफेद हाथी साबित हो रहे तों ज़मीन पर दफ़न हो गई है। जिससे लोग बूंद-बूंद पानी तरस रहे हैं, ग्रामीण ने बताया कि पीने के पानी की समस्या को हल करने के लिए ग्राम पंचायत बम्हौरीकलां में लोकनिर्माण विभाग और ग्राम पंचायत के द्वारा लगभग अस्सी हैंडपंप लगे थे, लेकिन रखरखाव के अभाव में और विभाग की लापरवाही के चलते ख़राब हो गई और अब धीरे-धीरे गायब होने लगे हैं। जिससे हालात यह है कि ग्राम पंचायत बम्हौरीकलां के लोग पीने के पानी को लेकर परेशान हैं और किसी भी हैंडपंप से पानी नहीं आ रहा है। सभी हैंडपंपों की पाइप लाइन गायब हो गई है। जिस जगह पर लगे थे वहां पर अभिशेष बचे हैं।ग्रामीण ने बताया कि ग्राम में पीने के पानी को लेकर हाहाकार मचा हुआ है, ग्रामीण कई सालों से निजी कुआं बोरो से पानी खरीद कर अपनी प्यास बुझा रहे हैं, लेकिन ग्राम पंचायत के सरपंच से लेकर पीएचई विभाग के पानी की समस्या को हल करने को लेकर कोई ठोस कदम नहीं उठाया गया है।ग्रामीण का कहना है कि सात साल पहले ग्राम पंचायत बम्हौरीकलां के स्थानीय बस स्टैंड से लेकर गांव के लगभग अस्सी हैंडपंप पानी देते थे जिससे ग्रामीण को राहत मिलती थी लेकिन अब हालात यह है कि पीएचई विभाग से लेकर ग्राम पंचायत के सरपंच ने कभी किसी हैंडपंप को ठीक कराने की जरूरत नहीं समझी जिससे जिससे हैंडपंप गायब हो गया है, जिस जगह पर लगे थे वहां पर अभिशेष बाकी बचे हैं। और हैंडपंपों की पाइप लाइन गायब हो कर कहा कई यह तो पीएचई विभाग और ग्राम पंचायत के सरपंच ही बता सकते हैं।ग्रामीण ने बताया कि अगर इनका रखरखाव समय पर होता तो सभी हैंडपंपों से पानी आता और लोगो को इस भीषण गर्मी के मौसम में बूंद बूंद को ना परेशान होते, जिसको लेकर ग्रामीणों ने जिला प्रशासन को एक पत्र लिखा है और जांच करने की मांग की है,।
जहां ग्राम पंचायत के सरपंच प्रतिनिधि श्याम लाल अहिरवार का कहना है कि हैंडपंपों में पानी नहीं और ‌ सुधारने के लिए कोई बजट नहीं मिला जिससे ख़राब पड़े हैं।
क्या कहते अधिकारी – इस इस पीएचई विभाग के एसडीओ पीआर प्रजापति ने बताया कि अधिकांश हैंडपंपों में पानी नहीं है। जिससे उसकी पाइपलाइन को निकलवा लिया गया है अब स्थिति यह है कि अगर हैंडपंप जमीन से गायब हो गई तो मैं उसका पता करता हूं जो हैंडपंप ठीक होने लाख होंगे उनको ठीक कराया जाएगा और जो पानी के अभाव में बंद है उसे पानी आने के बाद ही चालू कराया जाएगा‌

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close