दमोह

दमोह:- बारिश से खिले किसानों के चेहरे, धान रोपाई शुरू

मनोहर शर्मा एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज़

बारिश से किसानों के चेहरे खिले,उम्मीदों से भरे किसानों की धान रोपाई शुरू

दमोह :- मानसून को लेकर किसानों का इंतजार शुक्रवार की रात्रि से लेकर शनिवार की शाम तक हुई बारिश खत्म होता दिख रहा है बारिश से मौसम तो खुशगवार हुआ ही, किसानों के चेहरे भी खिल गए धान का कटोरा कहे जाने वाले बम्होरी माला अंचल में जिले के सबसे बड़े जलासय को जलमग्न होने के लिए अभी बारिश का इंतजार है असिंचित भूमि पर खेती करने वाले किसानों की फसल मानसून पर आश्रित है वहाँ के किसान वारिश होने से ज्यादा वे प्रसन्न चित है जिसमे बनवार अंचल के 50 से अधिक गांव शामिल है वहां के किसानों में मौसम परिवर्तन को लेकर हुई बारिश उत्साहित। 

एक वार फिर से कृषि कार्य की उम्मीदों आसमान से हुई बारिश ने पंख लगा दिए क्योंकि वारिश नही होने से खरीफ सीजन की धान की रोपणी व अंकुरण रुका हुआ था जो दो दिन रात से हुई बारिश में शुरू हो जाएगा वही रुक रुक कर हो रही झमाझम बारिश से लोग जहां भीषण गर्मी से कुछ राहत मिली है हैं धान रोपाई को लेकर वारिश नही होने से फिक्रमंद किसानों ने तो कम बारिश होने के वाद भी अच्छी वारिश की उम्मीदों के बीच वारिश से खेतों में हुए और सिंचाई करके खेत भरेल कुसमी बगलवारे में धान रोपाई का कार्य भी शुरू कर दिया।

किसानों का कहना है कि अब वारिश का क्रम शुरू हो गया है धान रोपाई जल्दी करने से बारिश फायदेमंद सावित होगी वही बम्होरी माला अंचल के किसानों को जहाँ वारिश में खेतों के जलमग्न होने का इंतजार ओर एक वार खेतों में धान रोपाई के लायक जल भराव हो जाने पर रोपाई होने के वाद वारिश में माला जलाशय भरने पर किसानों की चिंताएं धान की फसल फकने तक कि दूर हो जाएंगी क्योंकि माला जलासय भरने के वाद इस क्षेत्र के किसानों को धान की फसल की चिंता नही रहती और जलासय के पानी से नहरों के माध्यम से सिचाई होती रहती है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close