अवर्गीकृतटीकमगढ़

जतारा- मजदूरों की जगह जेसीबी मशीन से हो रहे मनरेगा के निर्माण कार्य मजदूर कर रहे पलायन

बाल किशन प्रजापति एमपी सीजी एक्सप्रेस न्यूज़

मजदूरों की जगह जेसीबी मशीन से हो रहे मनरेगा के निर्माण कार्य मजदूर कर रहे पलायन
जतारा – कोरोनावायरस की घड़ी में भी ग्रामीण अंचलों में मनरेगा के निर्माण कार्य भले ही शासन के निर्देशन में चल रहे हैं लेकिन निर्माण कार्यों में गांव के मजदूरों को रोजगार नहीं मिल रही है और जेसीबी मशीनों के माध्यम से निर्माण कार्य कराए जा रहे हैं जिससे गांव की मजदूर पलायन करने को मजबूर है। कुछ ऐसे ही नजारे जनपद पंचायत पलेरा की ग्राम पंचायतों में देखने को मिल रहा है जहां अधिकारियों के संरक्षण में रात्रि के अंधेरे में जेसीबी मशीनों से निर्माण कार्य हो रहे हैं वह सरपंच सचिवों के द्वारा अपने सगे संबंधियों के नाम मस्टररोल में दर्ज कर राशन की जा रही है जिसको लेकर ग्रामीणों ने जिला कलेक्टर के नाम एक पत्र भेजा है जिसमें उल्लेख किया है कि
रात्रि लगभग 10:00 बजे ग्राम पंचायत बखतपुरा के ग्राम सतवारा के निवासी संतोष पटेल द्वारा बताया गया कि रात्रि के समय सतवारा मैं ग्राम पंचायत बखतपुरा की सरपंच मिथिलेश पटेल, सचिव परमानंद चढार, एवं सहायक सेक्रेटरी देवेंद्र नायक के द्वारा रात्रि के समय स्थान ग्राम सतवारा, एवं ग्राम बम्होरिया मैं जेसीबी मशीन के माध्यम से तालाब का कार्य करवाया जा रहा है इसकी सूचना मिलते ही दिनेश कुमार निरंजन बुंदेलखंड किसान यूनियन राष्ट्रीय संगठन मंत्री युवा मोर्चा दिनेश कुमार निरंजन ने तत्काल तहसीलदार महोदय कमलेश कुशवाहा को इसकी सूचना दी मगर उनके द्वारा रात्रि में यह कह दिया गया कि किस कार्य के लिए जनपद पंचायत सीईओ एमएस मीणा से बात करें, जब जनपद पंचायत सीईओ एमएस मीणा का फोन लगाया तो उनका फोन स्विच ऑफ था, इसके बाद दिनेश कुमार निरंजन के द्वारा थाना प्रभारी सुनील शर्मा को फोन पर इसकी सूचना दी गई लेकिन प्रशासनिक अधिकारी रात्रि में सतबारा एवं बम्होरिया नहीं पहुंचे एवं लगभग 6 _7 घंटे घंटे जेसीबी मशीन के माध्यम से कार्य चलता रहा और जैसे ही सुबह हुआ तो तुरंत जेसीबी मशीन वहां से भाग गई लेकिन वहां के कुछ ग्राम वासियों के द्वारा सुबह से उस स्थान पर जाकर उस जगह के वीडियो एवं फोटेज अपने कैमरे में कैद कर लिए एवं यही वीडियो और फोटेज तहसीलदार कमलेश कुशवाहा ,जनपद पंचायत सीईओ एमएस मीणा, थाना प्रभारी सुनील शर्मा एवं सभी पत्रकार बंधुओं के मोबाइल पर भेज दिए गए, दिनेश कुमार निरंजन ने सरपंच एवं सचिव एवं सहायक सेक्रेटरी पर आरोप लगाते हुए कहा है कि ग्राम पंचायत बखतपुरा में जितने भी कार्य किए गए हैं उन सभी कार्यों में कहीं ना कहीं भ्रष्टाचार अवश्य हुआ है एवं दिनेश कुमार निरंजन के द्वारा बताया गया कि उन्होंने सूचना अधिकार अधिनियम 2005 का आवेदन कुछ विशेष कार्यों की जांच के लिए जनपद पंचायत सीईओ एमएस मीणा के पास दिनांक 17/02/2021 को दिया गया था लेकिन आज तक उन्हें एक भी नकल की प्राप्ति नहीं हुई है इसके अलावा रजक मोहल्ला के पास पुलिया का निर्माण एवं कालका शर्मा के पास जो पुलिया बनाई गई है वह पहले से बनी हुई थी केवल उसके ऊपर पलस्तर कर दिया गया है अब देखना यह है कि प्रशासनिक क्या कार्रवाई करते हैं दिनेश कुमार निरंजन नाथूराम राजपूत, संतोष पटेल, शासन प्रशासन जिला पंचायत सीईओ, एवं कलेक्टर एक पत्र के माध्यम से ग्राम पंचायत बखतपुरा में कराए जा रहे निर्माण कार्य की जांच कर उचित कार्रवाई करने की मांग ग्रामीणों के द्वारा जिला प्रशासन से की गई है अन्यथा की स्थिति में हम सभी लोग आंदोलन करने के लिए बाध्य होंगे जिसकी जिम्मेदारी शासन प्रशासन की होगी
Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close