छतरपुर

बक्सवाहा :- महिला सम्मान एवं सुरक्षा पर आयोजित कार्यक्रम, नारी का सम्मान – असली हीरो की पहचान

MPCG EXPRESS NEWS

महिला सम्मान एवं सुरक्षा पर आयोजित हुआ कार्यक्रम

नारी का सम्मान, असली हीरो की पहचान

बक्सवाहा :- महिला सम्मान एवं सुरक्षा का शुभारंभ प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान द्वारा शुरू किया गया, इसी उद्देश्य को ध्यान में रख महिला एवं बाल विकास द्वारा नगरीय क्षेत्र में हस्ताक्षर अभियान, शपथ समारोह व रैली कार्यक्रम का आयोजन किया गया।

कार्यक्रम में उपस्थित महिलाओं को महिला बाल विकास परियोजना अधिकारी हेमलता ठाकुर ने महिलाओं के सम्मान व सुरक्षा की शपथ दिलाते हुए कहा की आसपास ऐसा वातावरण बनाएंगे जिसमें नारी अपने आप को सुरक्षित महसूस करें, उन्हें सम्मान एवं समानता के अवसर प्राप्त हो तत्पश्चात उक्त उद्देश्य को ध्यान में रख हस्ताक्षर अभियान चलाया गया हैं।

कार्यक्रम में बाल विकास परियोजना अधिकारी ने उपस्थित महिलाओं को अपने सम्मान व सुरक्षा से जुड़ी जानकारी देते हुए बताया हैं की महिलाओं के साथ किसी भी प्रकार की अभद्रता व असामाजिक तत्वों द्वारा परेशान किया जाता है तो इसकी जानकारी हमें तुरंत थाने में देनी चाहिए।

आईपीसी की धारा 377
किसी भी महिला के साथ किया गया अप्राकृतिक कृत्य या बर्बरता जिसमें महिलाओं को प्रकृति विरुद्ध तरीके से कामवासना को मिटाने का प्रयास किया जाए तो दोषी को उम्रकैद, फांसी, दस वर्ष का कारावास और जुर्माना लगाया जा सकता है महिलाओं के साथ इस तरह के बढ़ते मामलों के कारण भारत सरकार ने कम उम्र की लड़कियों और महिलाओं से किए गए बलात्कार के खिलाफ (Protection of children from sexual offences Act- POCSO) पाॅक्सो एक्ट 2012 में संसद के दोनों सदनों से महिला एवं बाल विकास मंत्रालय द्वारा पास कराते हुए लागू किया गया हैं इस कानून में POCSO की धारा 7,8 के तहत नाबालिगो के साथ हुई बर्बरता पर कार्रवाई किए जाने का प्रावधान निहित किया गया है आईपीसी की धारा 164 महिलाओं के परिप्रेक्ष्य में ये कहती है कि महिलाओं की सुरक्षा, सम्मान और रक्षा की भावना से निजता रखने व पीड़िता की पहचान को गोपनीय बनाए रखने का कानून बनाया गया है। समाज में आज जिस तरह से महिलाओं और लड़कियों के साथ यौन शोषण बलात्कार छेड़खानी जैसी घटनाएं हो रही है वह चिंता का विषय है समाज में हो रही इस तरह की घटनाओं को रोकना हम सबकी जिम्मेदारी है इन्हें रोकने के लिए लोगों को महिलाओं के प्रति अपनी सोच को बदलनी होगी।

इस अवसर पर सेक्टर पर्यवेक्षक ऋतु जैन नगरीय क्षेत्र की आंगनवाड़ी कार्यकर्ता, सहायिका व किशोरी बालिकाएं सहित महिलाएं उपस्थित रही।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close