टीकमगढ़

विरोधियों द्वारा अतिशय क्षेत्र पपौरा जी को बदनाम करने की साजिश

एम.ए.खानअफसर एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज़

विरोधियों द्वारा अतिशय क्षेत्र पपौरा जी को बदनाम करने की साजिश
प्रेस वार्ता आयोजित कर प्रबंध समिति ने दिया आरोपों का जबाब

टीकमगढ़ :- आठ सौ वर्ष प्राचीन अतिशयकारी क्षेत्र की स्वच्छ छवि को धूमिल करने के लिए विघ्न संतोषी महिलाओं एवं तथाकथित चुनाव में हारे हुए क्षेत्र विरोधी व्यक्तियों द्वारा धरना प्रदर्शन कर जैन समाज की भावनाओं को भड़काने का कुकृत्य किया गया उसकी घोर निंदा की जाती है।

श्री 1008 दिगम्बर जैन अतिशय क्षेत्र पपौरा जी प्रबंध कार्यकारिणी एवं ट्रस्ट समिति के मंत्री विनय जैन सुनवाहा ने अध्यक्ष विजय तेवरैया, उपाध्यक्ष सुभाषचन्द्र जैन, उपमंत्री आलोक भदौरा, डाॅ. धर्मेन्द्र जैन, कोषाध्यक्ष अरविंद जैन चंदावली आडीटर अनिल जैन धनगौल, प्रकाश जैन बम्हौरी, संजीव कुमार भदौरा, सनत कुमार जैन, पुष्पेन्द्र जैन केशवगढ़, अशोक कुमार जैन, राजेश कुमार तेवरैया, प्रकाशचन्द्र जैन लोहिया, सुरेन्द्र लोड़ुआ, राकेश, राजा कारी, पवन जैन व अनिल कुमार जैन की खास उपस्थिति में प्रेस वार्ता में उक्त बात कही। उन्होंने कहा कि विपक्षी लोग प्रशासन को मजबूर कर क्षेत्र को बदनाम कर रहे है विरोधियों द्वारा लगाये गये आरोपों के जबाब में ट्रस्ट के मंत्री विनय सुनवाहा अध्यक्ष विजय तेवरैया के हवाले से बताया कि प्रत्येक पांच वर्ष में ट्रस्ट के वाॅयलोज के मुताबिक लोकतांत्रिक व्यवस्था से सदस्यों द्वारा 10 पदाधिकारी का चुनाव संपन्न होता है इस प्रक्रिया से चुने हुए पदाधिकारी क्षेत्र प्रबंध व्यवस्था, आय-व्यय, मंदिरों का जीर्णोद्धार साधु संतों के चर्या की व्यवस्था, यात्रियों की सुविधा एवं क्षेत्र के विकास में अपना तन, मन, धन से सेवा करते है। जैन धर्म के सभी आचार्याे, साधु संतों, आर्यिका माताओं का प्रबंध समिति एवं ट्रस्ट समिति पर आशीर्वाद है इसके अलावा समस्त आय-व्यय का हिसाब आडीटर द्वारा चैक कर चार्टर अकाउंट से प्रमाणित पत्रक वार्षिक मेले में महासमिति के समक्ष प्रस्तुत किया जाता है।

पत्रकार वार्ता में ट्रस्ट के मंत्री विनय जैन सुनवाहा ने स्पष्ट रूप से कहा कि क्षेत्र की गरिमा धूमिल करने वालों के खिलाफ कानूनी कार्यवाही की जायेगी। उन्होंने आगे बताया कि जैन समाज की विभिन्न महिला मण्डलों ने प्रशासन को पत्र दिये है नगर पालिका चुनाव के पूर्व जैन समाज को एक जुट करने की जगह समाज को तोड़ने की निदंनीय कोशिश की गई जिससे किसी को राजनैतिक लाभ पहुंचाया जा सके। ट्रस्ट के मंत्री विनय जैन सुनवाहा ने आगे बताया कि आचार्य भगवन श्री 108 विद्यासागर जी महामुनिराज ससंघ का अतिशय क्षेत्र पपौरा जी में वर्ष 2018 में लगभग 70 दिन का प्रवास से समस्त जैन समाज को धर्मलाभ प्राप्त हुआ और क्षेत्र पर प्रतिभा स्थली का आशीर्वाद एवं निर्माण कार्य प्रारंभ हुआ। लेकिन कतिपय क्षेत्र विरोधी व्यक्तियों ने षड़यंत्र कर कूट रचना करके इस प्रतिभा स्थली निर्माण को 1 वर्ष के भीतर ही दयोदय गौशाला पपौरा जी में स्थानान्तरित करवा कर शिलान्यास कर एवं प्रतिभा स्थली का निर्माण प्रारंभ कर दिया गया। सुनने में आ रहा है कि गौशाला से भी प्रतिभा स्थली अन्यत्र स्थानान्तरित हो रही है। जिसका जबाब गौशाला कमेटी को देना चाहिए।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close