टीकमगढ़

नगर पालिका टीकमगढ़ में साढ़े 33 लाख का घोटाला..?

एम.ए.खानअफसर एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज़

सी.सी.सड़क का निर्माण किया पीडब्ल्यूडी ने और भुगतान कर दिया नगर पालिका ने कैसे..?पूर्व पार्षद अज्जू सोनी ने की कलेक्टर से शिकायतकलेक्टर ने बनाई जांच कमेटी, एक सप्ताह में देगी रिपोर्टजिसके खिलाफ शिकायत वो ही जांच कमेटी में शामिल

टीकमगढ़ :- नगर पालिका कीें आर्थिक अनियमित्ताओं में निरंतर वृद्धि हो रही है मुख्य नगर पालिका अधिकारी ऐसे कार्य कर रहे है जैसे नगर पालिका किसी खास व्यक्ति विशेष की सम्पत्ति हो बाबजूद इसके कई फर्जी भुगतान कर दिये गये है।

उक्त आरोप लगाते हुए पूर्व पार्षद अजय सोनी अज्जू ने बताया कि गत 17 अगस्त 2020 को सिद्धि विनायक कन्ट्रक्शन कम्पनी के नाम से 33,55,586 (तैतीस लाख पचपन हजार पांच सौ छियासी) रूपये का फर्जी भुगतान नगर पालिका टीकमगढ़ द्वारा कर दिया गया है पूर्व पार्षद अजय सोनी अज्जू ने बताया कि जो उक्त भुगतान किया गया है उसमें कार्य वार्ड क्रमांक 01 में निषादराज भवन से चन्द्रशेखर पार्क तक रोड के दोनों ओर सीसी रोड निर्माण का उल्लेख किया गया है जबकि इस कार्य को पीडब्ल्यूडी द्वारा कराया गया है इसमें संदेहास्पद ये भी है कि जिस स्थान निषादराज भवन से चन्द्रशेखर पार्क का उल्लेख है वहां चन्द्रशेखर पार्क तो दूर दराज तक है ही नहीं, इससे साफ जाहिर होता है कि नगर पालिका अधिकारी की सांठगांठ से इस फर्जी भुगतान को अंजाम दिया गया है उन्होंने आरोप लगाया है कि नगर पालिका का ये फर्जी भुगतान तो सिर्फ एक बानगी है अन्य भुगतानों की जांच कराई जाये तो ऐसे कई और अन्य फर्जी भुगतानों का खुलासा हो सकता है।

पूर्व पार्षद अजय सोनी अज्जू ने इस सम्पूर्ण मामले जिसमें कार्य आदेश, एम.बी.एवं टीएस की प्रति संलग्न कर टीकमगढ़ कलेक्टर को शिकायत कर प्रधानमंत्री कार्यालय, आर्थिक अपराध अन्वेषण जबलपुर एवं मुख्यमंत्री म.प्र. शासन को कापी भेजकर जांच कराकर नगर पालिका अधिकारी एवं संबंधित ठेकेदार से रिकवरी करने का अनुरोध किया है।

कलेक्टर ने बनाई जांच समिति –
पूर्व पार्षद अजय सोनी अज्जू की शिकायत पर कलेक्टर सुभाष कुमार द्विवेदी ने छः सदस्यीय जांच समिति का गठन कर एक सप्ताह में प्रतिवेदन देने का आदेश जारी किया है जारी आदेश क्र./डीयूडीए/ 2021/13 दिनांक 01/01/2021 के मुताबिक जिन अधिकारियों की जांच कमेटी बनाई गई उनमें परियोजना अधिकारी जिला शहरी विकास अभिकरण टीकमगढ़, अनुविभागीय अधिकारी राजस्व टीकमगढ़, कार्यपालन यंत्री लोक निर्माण टीकमगढ़, कार्यपालन यंत्री ग्रामीण यांत्रकी सेवा टीकमगढ़, मुख्य नगर पालिका अधिकारी टीकमगढ़, कार्यप्रभारी उपयंत्री नगर पालिका परिषद टीकमगढ़ शामिल है यहां खास बात ये है जिसकी शिकायत की गई है उसी से जांच करवाई जा रही है जिसमें मुख्य नगर पालिका अधिकारी एवं उपयंत्री नगर पालिका परिषद शामिल है।

स्थानीय विधायक के भाई की है कंपनी –
पूर्व पार्षद अजय सोनी अज्जु के मुताबिक नगर पालिका टीकमगढ़ ने सिद्धि विनायक कंस्ट्रक्शन कंपनी को जो साढ़े 33 लाख रूपये का फर्जी भुगतान किया है वो स्थानीय भाजपा विधायक राकेश गिरि गोस्वामी के भाई यशराज गिरि गोलू के स्वामित्व में है।

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close