अवर्गीकृत

बकस्वाहा-उमा भारती ने कहा राम मंदिर के विरोधी कांग्रेसियों को चुनाव में सबक सिखाएं प्रहलाद पटेल और वीडी शर्मा ने भी चुनाव में झोंकी ताकत

एमपीसीजी एक्सप्रेस न्यूज

बकस्वाहा-उमा भारती ने कहा राम मंदिर के विरोधी कांग्रेसियों को चुनाव में सबक सिखाएं
प्रहलाद पटेल और वीडी शर्मा ने भी चुनाव में झोंकी ताकत

बक्स्वाहा। बड़ा मलहरा विधानसभा उपचुनाव में आज भारतीय जनता पार्टी के प्रत्याशी प्रदुमन सिंह लोधी के पक्ष में बक्सवाहा में जनसभा को संबोधित करने आई प्रदेश की पूर्व मुख्यमंत्री उमा भारती, केंद्रीय मंत्री पहलाद पटेल एवं भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने कांग्रेस पार्टी और उनके नेताओं पर तीखे हमले किए । साथ ही जनता से भाजपा प्रत्याशी को वोट देकर विजय बनाने हेतु अपील भी की । सुश्री उमा भारती ने कहा की कांग्रेस पार्टी राम मंदिर निर्माण के रास्ते में हमेशा बाधा बनती रही जो सपना 100 करोड़ हिंदुस्तानियों का था कि राम जन्मभूमि अयोध्या में भव्य राम का मंदिर बनना चाहिए उस सपने को कभी कांग्रेस साकार नहीं होने देना चाहती थी। प्रमाण के रूप में कांग्रेस के वरिष्ठ नेता एवं पूर्व सांसद कपिल सिब्बल शुरू से ही राम मंदिर निर्माण के विरोधियों के पक्ष में खड़े होकर उनकी पैरवी करते रहे अगर कांग्रेस ने राम मंदिर निर्माण में बाधा नहीं डाली होती तो यह सपना कई वर्षों पूर्व साकार हो जाता । हमारी केंद्र की सरकार ने दृढ़ इच्छाशक्ति दिखाते हुए मजबूती से पक्ष को रखा और आज राम मंदिर निर्माण का सपना साकार होने जा रहा है। इस दशहरे पर हमें कांग्रेस सबक सिखाना चाहिए। जनसभा को केंद्रीय मंत्री पहलाद पटेल ने भी संबोधित किया । उन्होंने कहा कि बड़ा मलहरा विधानसभा क्षेत्र उनका स्वयं का संसदीय क्षेत्र है और उनको यह पूर्ण विश्वास है कि बड़ा मलहरा क्षेत्र में भारतीय जनता पार्टी की कभी हार नहीं हो सकती।

संगठन ठीक से काम करे तो जीत कोई नहीं रोक सकता 

भाजपा प्रदेश अध्यक्ष वीडी शर्मा ने जनसभा को संबोधित करते हुए कहा की चुनाव भले ही प्रदुमन सिंह लड़ रहे हो परंतु पार्टी को और प्रत्याशी को जीत दिलाने की जवाबदेही पार्टी संगठन को ही लेनी पड़ेगी । पार्टी संगठन निष्ठा और ईमानदारी से सक्रियता पूर्वक कार्य करेगा तो जनता का साथ मिलने से कोई  नहीं रोक सकता।  

Show More

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

error: Content is protected !!
Close